New Delhi August 16: ABVP National General Secretary Umesh Dutt has strongly condemn UPA government on today’s arrest of Anna Hazare. The way in which Baba Ramdev’s agitation is throttled & today Anna Hazare is arrested is very fatal to democracy. Curbing peaceful & democratic agitation exposes dictatorial character of UPA government. Public outrage against corrupt central government is very conspicuously seen as a result of exposed scams in last few months. ABVP fully supports ongoing agitation against corruption.
There are many issues like Jan Lokpal bill, black money in comprehensive battle against corruption but ABVP is also in support of competent Jan Lokpal bill. Since last few months ABVP is agitating against rampant corruption with slogan “Bhrashtacharion Satta Chhodo”. Suppressing every voice against corruption will not end this war but central government has to pay for it as a result. ABVP resolve to take this agitation to it’s logical end and is determined for every effort in this regard, said Shri Umesh Dutt.
अन्ना हजारे की गिरफ्तारी पर अभाविप द्वारा तानाशाही यूपीए सरकार की तीव्र निंदा
आज सुबह केंद्र की यूपीए सरकार द्वारा श्री अन्ना हजारे को गिरफ्तार करने की अभाविप के राष्ट्रिय महामंत्री श्री उमेश दत्त ने तीव्र निंदा की है | जिस प्रकार से बाबा रामदेव के आन्दोलन को कुचलने  तथा आज अन्ना हजारे को गिरफ्तार किया गया वह लोकतंत्र के लिए घातक है | शांतिपूर्ण तथा लोकशाही तरीके से आन्दोलन को कुचलने का यह कुत्सित प्रयास यूपीए सरकार की तानाशाही वृत्ति को उजागर करता है |  विगत कई महिनों से उजागर हो रहे घोटालों से भ्रष्टाचार में लिप्त केंद्र सरकार के विरोध में लोगों का आक्रोश स्पष्ट रूप से दिखायी दे रहा है | वर्तमान में चल रहे भ्रष्टाचार विरोधी आन्दोलन का अ. भा. विद्यार्थी परिषद् पूर्णरूप से समर्थन करती है |
भ्रष्टाचार विरोधी इस व्यापक लड़ाई में जन लोकपाल बिल, काला धन जैसे कई मुद्दे है और अभाविप सक्षम जन लोकपाल विधेयक बनने की पक्षधर भी है | “भ्रष्टाचारियों सत्ता छोडो” इस नारे के साथ विद्यार्थी परिषद् विगत कई महिनों से भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलनरत है | भ्रष्टाचार के विरोध में उठ रही हर आवाज को दबाने के प्रयासों से यह लड़ाई ख़त्म तो नहीं होगी लेकिन इसके परिणाम केंद्र सरकार को भुगतने पड़ेंगे | उमेश दत्त ने कहा की इस आन्दोलन को अंतिम छोर तक ले जाने के संकल्प के साथ अभाविप हर प्रकार के प्रयास के लिए कटिबद्ध है |