VHP Chief Togadia inaugurates GOW UTSAV in Karnavati

गोपाष्टमी के शुभ अवसर पर विश्व हिन्दू परिषद के अन्तर्राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष

डाप्रवीणभाई तोगडि़या जी का प्रेस वक्तगोपाष्टमी गौ उत्सव में गौ बेंक जी बी कनेक्ट- आर्थिक समृद्धि आदि योजनाएं आरम्भ ! 

Gopastmi

गौ माता हमारी कृषिआरोग्यसौंदर्य और धर्म का आधार – 

१) गोग्रास -गो भोजनालय अभियान -गाय भूखी नहीं रहेंगीगाय गंदा खायेगी नहीं

२) जीबी कनेक्ट योजना -ज्यादा कमाईऐसन्मानसे – पञ्च गव्य उत्पादनसे लाखो परिवारोंको स्वावलम्बी बनानेकी योजना 

३) गो बेंक -आर्थिक सहयोग योजना

कर्णावती / वड़ोदरा / राजकोट१ ० नवम्बर २ ० १ ३: गोपाष्टमी निमित्त गुजरात विश्व हिन्दू परिषद् – गौ रक्षा विभाग द्वारा आयोजित गौ उत्सव के अनेक कार्यक्रम कर्णावती (अहमदाबाद )वड़ोदराराजकोट और अन्य १ २ ० स्थानों पर संपन्न हुए। गौ बेंक का,  महिलाओं के लिए सन्मान के साथ अधिक कमाओ‘ याने जी बी कनेक्ट ‘ का और गौ सेवक आदि योजनाओं का अनावरण करते हुए विश्व हिन्दू परिषद् के आंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष डॉ प्रवीण तोगड़िया जी ने कहा, “गौ माता हमारी कृषिआरोग्यसौंदर्यआर्थिक समृद्धि और धर्म का आधार है। प्राकृतिक खाद से जमीन की  मिटटी अनेक वर्षों तक उपजाऊ रहती है। आरोग्य के लिए देसी गौमाता का दूधदही और घी सर्वोत्तम माना गया है। आयुर्वेद और आधुनिक विज्ञान दोनों ने देसी गाय के पंचगव्य  के गुणधर्म मान लिए हैं। जैसे नवजात  बच्चे के लिए अपनी माता का दूध वैसे ही बड़ों के लिए गाय का दूधदहीघी आदि। पंचगव्य से बने सुन्दरसुगन्धित और औषधीय साबुनशेम्पूबामफेस वाश आदि तो सौंदर्य और आरोग्य दोनों साथ साथ देते हैं। गौ ब्रांड्स के कारण जीवन आरोग्यपूर्ण होता है। इसी के साथ इन उत्पादनों को अपने अपने परिचितों में बेचकर महिलायेंकॉलेज के युवानिवृत्त व्यक्ति सन्मान के साथ अधिक कमाई कर सकते हैं और गौसेवा भी ! जी बी कनेक्ट ‘ यह योजना घरो घरों में सन्मान के साथ समृद्धि लाने के लिए और गौमाता को बचाने के लिए  हैं।” 

डॉ तोगड़िया ने गौ बेंक ‘ का भी अनावरण किया। सुन्दर श्वेत रंग की छोटी सी गाय की प्रतिकृति बचत के लिए बनायी गयी हैजो घरो घरों में दी गयी और उपलब्ध रहेगी। डॉ तोगड़िया ने कहा, “गौ बेंक आप के लिए और बच्चों के लिए बचत की आदत तो सिखाएगी हीसाथ साथ हर दिन कम से कम १ रूपया गौ बेंक में डालकर महीने के अंत में उसमें से १ हिस्सा गोग्रास के लिए दे सकते हैं१ हिस्से से गौ ब्रांड्स के उत्पादन खरीदकर अपनी सेहत बना सकते हैं और बचा हुआ १ हिस्सा वर्ष के अंत में बड़ा होगा उससे गोदान भी कर सकते हैं या अपने परिवार के लिए छोटी मोटी खरीदारी भी ! गोग्रास याने बस १ रोटी और कटे हुए हरी सब्ज़ी के पत्ते  हर दिन निकालकर अपने हाथ से गाय को खिलाएं। गोग्रास रथ भी आएगाउनमें भी दे सकते हैं।”

 

गौ भोजनालय‘ इस अभिनव योजना का भी संकल्प डॉ तोगड़िया जी ने करवाया। उन्होंने कहा, “अनेक गायें रस्ते पर भूखी प्यासी धूप में भटकती  हैंमिलेगा वह कूड़ा गंदा खाती हैं। हर व्यक्ति अगर हर दिन गोग्रास निकालेगा और स्वयं जाकर गाय को नहीं खिला सकता तो गौ भोजनालयों में देगा तो वहाँ आकर गायें अच्छा खाना खायेगीसाफ़ जल पियेगी। उन्हें गंदा कूड़ा नहीं खाना होगा। विश्व हिन्दूपरिषद् – गोरक्षा विभाग समाज के सहयोग से ऐसे गौ भोजनालय‘ जगह जगह पर बनवा रही हैं। जो गायें दूध नहीं देतीउनका भी खाना और चारे का खर्च किसान पर नहीं आएगा – गायें क़त्ल से भी बचेगी। इस ciprofloxacin 50mg के लिए गौ सेवक बनाने के भी फॉर्म्स अनेक लोगोने गौ उत्सव में भरे हैं। हम सभी मिलकर गौमाता का सम्मान और स्थान कायम रखेंपुण्य भी कमाएँ और देश को स्वावलम्बी होने में सहयोग करें। विकास का मार्ग भारत में हमारी कृषिसंस्कृतिआरोग्य और धर्म से ही है और उन का आधार गौ माताहमारी परिवार प्रणाली और हिन्दू धर्म हैं।” 

Vishwa Samvada Kendra

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Are you Human? Enter the value below *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

Is Rahul Gandhi Ready to Take a Call on Article 370?

Mon Nov 11 , 2013
by Ranjan Chauhan, Jammu and Kashmir Study Center, Jammu/New Delhi Congress vice-president Rahul Gandhi’s panchayat rally in Jammu was disrupted by panchayat leaders for making false promises on implementing 73rd and 74th amendment in Jammu and Kashmir.  Just before five minutes of Rahul’s address to a gathering of over 5,000 panchayat members at […]