धर्म परिवर्तन का मुद्दा जिस प्रकार मीडीया में चल रहा है, यह उचित नहीं है : मनमोहनजी वैध

RSS  अ.भा.प्रचार प्रमुख मा.मोहनजी वैधकी पत्रकार परिषद का आयोजन कार्यकर्ता शिबिर-२०१५ के दुसरे दिन किया गया. पत्रकार परिषद में  उपस्थित पत्रकारों एवं इलेक्ट्रॉनिक मिडिया कर्मिओ को शिबिर के बारे में अवगत करते हुए अ.भा.प्रचार प्रमुख श्री मनमोहनजी वैध ने बताया की सन. 1985 में गुजरात के स्वमंसेवको की शिबिर हुई थी. उस शिबिरमें गुजरात प्रांत के 5000 स्वमंसेवको ने भाग लिया था .  उस के बाद सन 2000 में आयोजित संकल्प शिबिर में 25000 स्वमंसेवको उपस्थित रहे थे.  किन्तु आज के इस शिबिर में सिर्फ स्वयं सेवक ही नही अपितु जिनके प्रति कोई ना कोई दायित्व है ऐसे कार्यकर्ता बंधू है. इस शिबिरमें 14,558 कार्यकर्ता उपस्थित रहे है.  मनमोहनजीने बताया की इस शिबिर का 2.1.14 को विधिवत उद्घाटन हुआ और उसके बाद 3.1.2015 प्रातः 10 बजे अग्रणी महिला समेलन का आयोजन हुआ और 4.1.2015 को प्राध्यापक समेलनका आयोजन होगा. संघ कार्य के विस्तार के बारे में उन्होंने बताया की वर्ष 2015 में भारतमें कुल 4,500 शाखाओ की वृध्धि हुई है. गुजरात प्रांतमें भी 320 नित्य शाखाओ की वृध्धि 2014 मे हुई है. संघ से जुड़ने वाले कार्यकर्ताओकी भी संख्या बढ़ी है. जॉइन आर.एस.एस. से  संघ की वेबसाइट द्वारा  जुड़ने वालो की संख्या में भी वृध्धि हुई है . इस वेबसाइट से जुड़ने वालो की संख्या सन 2012 में 1000 के आसपास भी जो सन 2013 मे 2600 हुई और 2014 में लगभग 9000 व्यक्तिओ ने संघ से जुड़े. इसी तरह गुजरात प्रांत में इस वेबसाइट के माध्यम से संघ से जुड़ने वालोकी संख्या सन 2012 में  46,  2013 में 180 और 2014 में लगभग 490 है . पुरे गुजरात में इस वेब साईट पर रजिस्ट्रेशन संख्या बढ़ी है.

1-1038x576

कार्यकर्त्ता शिबिर के द्वारा संघ कार्य का विस्तार हो रहा है. इस प्रकार के कार्यकर्त्ताओ के बौधीक प्रशिक्षण के लिये देश भर मे अलग अलग प्रान्तों में इस प्रकार शिबिरो का  आयोजन किया जाता हैं. 

पत्रकारो के प्रश्नों के उत्तर देते हुए श्री मनमोहनजी निम्नानुसार बताया :-

प्रश्न : संजय जोशी की घर वापसी होगी?

उत्तर : जो घर पर ही है उसकी घर वापसी कैसी, ये घर पर ही थे, संघ परिवार में ही है अत : इस प्रकार का  कुछ है ही नहीं .

प्रश्न : चुनाव में संघ का क्या कार्य होता है?

उत्तर : चुनावो के समय संघ के कार्यकर्त्ता एक शक्तीशाली प्रजातंत्र के लिए मतदान के लिए जगरुकता के कार्य करते हैं.  बड़ी मात्रा में मतदान मजबूत प्रजातंत्र के लिए अच्छा  है

प्रश्न : कोमन सिविल कोड और धारा ३७० के विषय पर संघ का क्या मत है ? 

उत्तर : दोनों विषय सरकार के लिये है  सरकार के एजेंटे में ये विषयो का समावेश है. लोगो  ने इन विषयो के लिये सरकार को पाच वर्ष का समय दिया है. उसमे से अभी तो एक वर्ष भी पूरा हुआ नही है. लोगो को इन विषयो के लिए सरकार को समय देना चाहिए 

प्रश्न : भाजपा के सत्ता में आ जाने के कारण क्या संघकार्य में हुई है ?

उत्तर : संघ के कार्य का मूल्याकन संघ की शाखाओ में वृद्धि के आधार पर होता है. प्रतिदिन शाखा में जाना कोई आसन काम नही है. और सरकार के बदलने से लोग शाखा जाना प्रारंभ कर देंगे ऐसा  नही है. संघ की सबसे ज्यादा शाखाए केरल में है जहां  अन्य दल  सत्ता में है. अत इससे संघ कार्य के विस्तार पर  कोई फर्क नही पड़ता है.

प्रश्न : क्या धर्म परिवर्तन का मुद्दा मोदी सरकार को मुश्कील में डाल रहा है?

उत्तर : धर्म परिवर्तन का मुद्दा जिस प्रकार मीडीया में चल रहा है. यह उचित नहीं है. जिन लोगो की पूजा पद्धति बदली थी और ये लोग समाज से दूर हो गए थे, ऐसे लोग फिर से अपने मूल समुदाय में आते है तो इसमें क्या गलत है. अपने सविधान में सभी को अपनी इच्छा के अनुसार अपना धर्म पूजा पद्धति अपनाने का अधिकार दिया है. अत: अपनी स्वेच्छा से घर वापसी एक सामान्य और कानूनी प्रक्रिया है.

इस पत्रकार परिषद् में अ.भा.सह प्रचार प्रमुख जे नंद्कुमारजी प्रांत प्रचार प्रमुख प्रदीपभाई जैन, सह प्रचार प्रमुख विजयभाई ठाकर सहित बड़ी संख्या में पत्रकार इलेक्ट्रॉनिक मिडिया कर्मी उपस्थित  रहे.

 

Vishwa Samvada Kendra

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Are you Human? Enter the value below *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

1602 Swayamsevaks attended Sanghik at Mysuru, Dattatreya Hosabale addresses

Wed Jan 7 , 2015
Mysuru January 07: ‘Sanghik’, a congruence of RSS Swayamsevaks was held at Mysuru city district last Sunday, in which 1602 swayamsevaks attended. RSS Sahasarakaryavah Dattatreya Hosabale addressed the gathering, JK Grounds Mysuru. RSS Pranth Sanghachalak M Venkataramu, RSS Vibhag Sanghachalak Dr Vaman Rao Bapat were present on the dais.   […]